एनएचके वर्ल्ड > संग सीखें जापानी > हिन्दी का पहला पन्ना > "संग सीखें जापानी" क्या है?

"संग सीखें जापानी" क्या है?

"संग सीखें जापानी" क्या है?

"संग सीखें जापानी", जापानी भाषा शिक्षण पाठमाला है जिसे जापान के लोक प्रसारक एनएचके वर्ल्ड रेडियो जापान ने तैयार किया है। नाट्य रूप में बनाई गई इस पाठमाला की मदद से आप जापानी भाषा का मूल व्याकरण और उपयोगी वाक्यांश सीख सकते हैं। इन पाठों की ऑडियो और पाठ्य सामग्री आप नि:शुल्क डाउनलोड कर सकते हैं।

कहानी परिचय

कहानी की नायिका हैं 20 साल की थाई छात्रा, आन्ना जिन्हें जापानी मांगा कॉमिक्स बहुत पसन्द हैं। वे तोक्यो के एक विश्वविद्यालय में एक साल के लिए जापानी भाषा सीखने आई हैं। विश्वविद्यालय की कक्षाओं, छात्रावास की रोज़मर्रा की ज़िन्दगी, ख़रीदारी और यात्रा जैसे तरह-तरह के अनुभवों के ज़रिये वे जापानी भाषा सीखेंगी।

प्रमुख पात्र

आन्ना

आन्ना, थाईलैंड से आई छात्रा हैं। उन्हें जापानी मांगा कॉमिक्स बहुत पसन्द हैं और उनका मक़सद है बिना किसी कठिनाई के जापानी भाषा में मांगा कॉमिक्स पढ़ना। वे ज़िन्दादिल हैं और जिज्ञासा से परिपूर्ण हैं। ग़लतियाँ करते हुए भी वे जापानी भाषा और जापान के रीति-रिवाजों के बारे में सीखकर, आगे बढ़ती जाती हैं।

साकुरा

साकुरा भी आन्ना के ही विश्वविद्यालय में पढ़ती हैं। जापानी भाषा की शिक्षिका बनना चाहती हैं। वे विदेशी विद्यार्थियों की मदद करने वाली “ट्यूटर” का काम भी करती हैं और आन्ना को जापानी रहन-सहन से परिचित कराने में मदद करती हैं। साकुरा, जापान के प्रशान्त महासागर से सटे प्रिफ़ैक्चर, शिज़ुओका से हैं।

रोड्रिगो

रोड्रिगो मेक्सिको से हैं और आन्ना के सहपाठी हैं। उन्हें जापान के इतिहास में दिलचस्पी है। वे जानकार और मेहनती हैं लेकिन कभी-कभी बहुत उत्साहित भी हो जाते हैं।

प्रोफ़ेसर सुज़ुकि

प्रोफ़ेसर सुज़ुकि, आन्ना और दूसरे विदेशी विद्यार्थियों को जापानी भाषा पढ़ाते हैं। विद्यार्थियों को जब भी कोई परेशानी होती है, वे लोग उनसे सलाह लेते हैं। सब उनपर निर्भर हैं।

छात्रावास प्रभारी

ये उस छात्रावास की प्रभारी हैं जिसमें आन्ना रहती हैं। विद्यार्थी इनसे बहुत प्यार करते हैं और इन्हें "ओकाआसान" बुलाते हैं। जापानी भाषा में "ओकाआसान" का अर्थ है "माँ"। ये कड़क तो हैं, लेकिन विदेशों से आए विद्यार्थियों का प्यार से ध्यान रखती हैं।

केन्ता

केन्ता, साकुरा के चचेरे भाई हैं। साकुरा के गृहनगर, शिज़ुओका प्रिफ़ैक्चर में रहते हैं और विश्वविद्यालय में पढ़ते हैं। विश्वविद्यालय में ये फ़ोटोग्राफ़ी क्लब के सदस्य हैं।

पाठों की सूपरवाइज़र

आकाने तोकुनागा

आकाने तोकुनागा

सहायक प्रोफ़ेसर, कान्दा युनिवर्सिटी ऑव इन्टरनैशनल स्टडीज़

सहायक प्रोफ़ेसर तोकुनागा जी, 1990 के दशक से जापानी भाषा की शिक्षिका के रूप में कई भूमिकाएँ निभाती आई हैं। सन् 2000 से, कान्दा युनिवर्सिटी ऑव इन्टरनैशनल स्टडीज़ के जापानी भाषा और संस्कृति पाठ्यक्रम के अंतर्गत विदेशी छात्रों को जापानी भाषा पढ़ाती आई हैं। शिक्षण सामग्री तैयार करने में भी इनका योगदान रहा है। तोकुनागा सेन्सेइ हँसमुख स्वभाव की हैं, और अपने व्यावहारिक पाठों के लिए जानी जाती हैं।

*आप एनएचके की वैबसाइट से बाहर चले जाएँगे।